नटराज योग से बढ़ाये मानसिक एकाग्रता( Natraj yoga in hindi)

नटराज योग से बढ़ाये मानसिक एकाग्रता( Natraj yoga in hindi): दिन भर का काम एवं दिमाग में कई टेंशन की वजह से मानसिक स्थिरता नहीं आ पाती | हर वक़्त काम का बोझ एवं आगे निकलने के दबाव के बीच हम इतना परेशान हो जाते हैं कि कोई समाधान भी ढूंढते नहीं बनता | यही नाकामी आगे जाकर क्रोध, डिप्रेशन एवं चिड़चिड़ापन की एक बड़ी वजह बनती है |

ऐसे मौके में रोज प्रातः काल केवल 30 मिनट के लिए किया गया योग न सिर्फ आपको मानसिक स्थिरता देगा बल्कि इसके अलावा ये आपके कार्य कौशल को भी बढ़ाएगा | महादेव शिव के तांडव नृत्य का ही एक भाग नटराज के ऊपर योग का भी एक आसन बनाया गया है | इस आसन को करते वक़्त व्यक्ति का शरीर नटराज पोस में आ जाता है | पेश है एक रिपोर्ट…
नटराज योग कैसे करें..

(1) सबसे पहले किसी साफ सुथरे स्थान का चुनाव कर सीधे खड़े हो जाए | फिर दाये पैर को पीछे ले जाकर जमीन से ऊपर उठाये | बाद में उसे घुटने से मोड़कर पैर के पंजे को दाये हाथ से पकड़े |

(2) अब दाये हाथ से दाये पैर को अधिकतम ऊपर उठाने का प्रयास करें | बाये हाथ को सामने ऊपर उठाये एवं इस दौरान सर को भी ऊपर की और उठा के रखें |

(3) इस आसन को कुछ देर तक करने के बाद दोबारा सावधान की मुद्रा में आ जाये तथा एक बार फिर इसी अवस्था को दोहराए |
नटराज योग  के फायदे..

(1) इस आसन के नियमित अभ्यास से पैर, पीठ एवं हाथों की मांसपेशियों को आराम मिलता है |

(2) इस आसन के उपयोग से मानसिक स्थिरता आती है एवं एकाग्रता शक्ति में भी बेतहासा वृधि होती है |

(3) स्नायुतंत्र को मजबूत बना ये आसन तंत्रिकाओं के मध्य बेहतर सामंजस्य बनाता है |

योग से जुड़े ऐसे ही अन्य योगासन के लिए हमारे योग सीरीज वाले पेज पर बने रहे.

 

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
नटराज योग कैसे करें..
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply