गरुडासन योग से पाए गुप्त रोगों से छुटकारा

यदि आप भी यौन रोगों से सम्बंधित शिकायतों को दूर करना चाहते है तो आज ही से Garudasana yoga करना शुरू कर दे| यौन रोग…बचपन से ही समाज में सेक्स शिक्षा का अभाव एवं एक बेहतर समझ के अभाव में कई बार हम ऐसी समस्याओं से घिर जाते हैं जिसका समाधान मांगते भी हमे झिझक आती है | ऐसे विकारों में गुप्त रोग की समस्या काफी आम है |  ध्यान दे समय रहते एक बेहतर इलाज के अभाव में भविष्य में ये समस्या काफी विकराल हो सकती है |

आप माने या न माने परन्तु कुछ योग ऐसे भी होते हैं जिनका नियमित अभ्यास हमे गुप्त रोग जैसी गंभीर समस्या में काफी फायदा पहुँचा सकता है |Garudasana yoga उनमे से ही एक है | इस आसन को करते वक़्त शारीरिक संरचना गरुड़(Eagle) समान हो जाती है  | इसी कारण से इस आसन को गरुड़ासन कहते हैं | पेश है एक रिपोर्ट..

Garudasana yoga कैसे करें:

(1) इस आसन को करने से पहले सावधान मुद्रा में खड़े हो जाये | फिर बाये पैर को ऊपर उठाकर दाये पैर में लपेटकर इस तरह जमीन पर रख दें कि बाये घुटने पर दाये घुटने का निचला भाग टिका रहे |

(2) दोनों हाथों को सर के ऊपर उठाते हुए कोहनी को क्रॉस कर लपेट लें और दोनों हथेलियों को लपेटकर चेहरे के सामने नमस्कार की मुद्रा बना लें |

 इसे भी पढ़े: स्वप्नदोष रोकने के कारगर घरेलु उपाय 

(3) अब धीरे-धीरे श्वास को छोड़ते हुए हाथों को ऊपर ले जाये तथा साथ में पैरों के बंधन को खोलकर दोबारा तदासन की मुद्रा में आ जाये |

(4)  इस आसन को एक तरफ से करने के पश्चात दोबारा श्वास छोड़ते हुए दूसरी दिशा से भी करने का प्रयाश करें |

Garudasana yoga से फायदे(Benifits of Garudasana yoga):

(1) इस आसन के नियमित उपयोग से कमर, कंधे, हाथ एवं पैरों की मांसपेशियों में खिचाव आता है| दर्द एवं अकड़न सम्बंधित समस्या नहीं रहती है |

(2) इस आसन के करते रहने से स्त्री एवं पुरुष के तमाम गुप्त रोगों में काफी फायदा पहुँचता है |

 इसे भी पढ़े: ऐसे बनाये सुहागरात को रोमांटिक और भी हसीन 

(3)  मूत्र विकार, बहुमूत्र एवं किडनी सम्बंधित किसी भी तरह के विकार को उखाड़ फेंकने में ये आसन काफी हद तक कारगर सिद्ध होता है |

योग से जुड़े ऐसे ही अन्य योगासन के लिए हमारे योग सीरीज वाले पेज पर बने रहे.

Summary
Review Date
Reviewed Item
गरुडासन योग
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Have Entered Wrong Credentials