मीनोपॉज के लक्ष्णों से निजात दिलाएगा हलासन योग( Halasana yoga in hindi)

मीनोपॉज के लक्ष्णों से निजात दिलाएगा हलासन योग( Halasana yoga in hindi): एक औरत से जब उनकी सबसे बड़ी खुशी के बारे में पुछा जाता है तो निश्चित तौर पर “माँ” बनने कि खुशी उनमें सर्वोपरी होती है | माँ बनने का एहसास न केवल हमें मानसिक सुख एवं शांति देता है बल्कि शरीर में पॉजिटिव हॉर्मोन के स्त्राव को बढ़ा ये हमें एक फील गुड फैक्टर भी देता है |

मगर अमूमन एक उम्र आने पर ओवरी से स्वतः अंडे का निर्माण रुक जाता है या फिर काफी कम हो जाता है | साधारणतः मिड 40 में होने वाले इस लक्ष्ण को मीनोपॉज के नाम से जाना जाता है | हम मीनोपॉज को रोक तो नहीं सकते मगर हाँ एक स्वस्थ जीवन शैली अपना कर काफी दिनों तक इसे टाल जरुर सकते हैं | ऐसे में हलासन का इस्तेमाल आपको काफी फायदा पहुँचा सकता है |

हलासन योग कैसे करें

(1) इस योग को करने के लिए शुरुआत में आपको किसी ट्रेनर की जरुरत पड़ सकती है |

(2) एक कपड़ा बिछा कर शुरुआत में पीठ के बल लेट जाएँ | शरीर को स्थिर बना धीरे-धीरे पॉव को ऊपर उठाएँ |

(3) अब पॉव को ट्रेनर की मदद से धीरे-धीरे पीछे की ओर ले जाने की कोशिश करें ध्यान दें आपके पॉव, सिर एवं हाथ के बीच हल आकर बने |

हलासन योग के फायदे

(1) ये आसन स्पाइनल कोर्ड, रीढ़ के हड्डियों एवं पॉव के मसल्स में खिचाव ला उन्हें मजबूत एवं फ्लेक्सिबल बनाता है |

(2) Menopause की समस्याओं को टालने में इस आसन से काफी फायदा मिलता है | इससे आप लम्बे समय तक फर्टाइल बने रहते हैं |

(3) अपचन, एसिडिटी, डायबिटीज एवं कब्ज जैसे पाचन विकारों में भी ये आसन काफी फायदा पहुँचाता है |

(4) इस आसन से शरीर की मांसपेशियों में खिचाव आता है जिससे की शरीर में रक्त का संचार दुरुस्त हो पाता है | ये एक नेचुरल स्ट्रेस बूस्टर के रूप में भी आपको काफी फायदा पहुँचा सकता है |

योग से जुड़े ऐसे ही अन्य योगासन के लिए हमारे योग सीरीज वाले पेज पर बने रहे.

Summary
Review Date
Reviewed Item
हलासन योग
Author Rating
51star1star1star1star1star

Tredinghour

THNN (Trendinghour News Network).

Leave a Reply