जब किशोर दा कर बैठे इतनी बड़ी गलती..

 

जिंदगी कैसी है पहेली हाई…!!

फिल्म आनंद एवं बाबु मोशाई का वो रोल शायद आजीवन बॉलीवुड के स्वर्णिम इतिहास का एक हिस्सा रहेगी |  चाहे ऋषिकेश दा की डायरेक्शन हो या फिर राजेश खन्ना की एक्टिंग इस पिक्चर ने कामयाबी के सारे रिकॉर्ड तोड़ अमिताभ एवं राजेश जी के करियर को एक नयी ऊँचाई दी थी | मगर क्या आपको पता है कि इस फिल्म में पहले महमूद एवं किशोर कुमार को लेने की बात थी परन्तु जब ऋषिकेश जी किशोर जी को मनाने उनके घर पहुँचे तब उनके गेटकीपर ने कुछ ऐसा किया जिसकी वजह से ऋषि दा का दिल टूट गया और फिर उन्होंने किशोर जी को लेने का प्लान ड्राप कर राजेश खन्ना को अपने इस महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट के लिए साइन कर दिया |

दरअसल बात तब की है जब ऋषि दा आनंद के स्क्रिप्ट के ऊपर काम कर रहे थे | उस टाइम एन.सी.सिप्पी जी जो कि फिल्म के प्रोडूसर भी थे उन्होंने ऋषि दा को किशोर कुमार को इस प्रोजेक्ट के लिए मनाने हेतु उनके घर भेजा | परन्तु वहाँ उनके गेटकीपर ने उन्हें न पहचानते हुए उन्हें गेट से अन्दर नहीं जाने दिया | लाख सफाई के बाद भी गेटकीपर ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया और इस तरह किशोर जी के हाथों से ये रोल स्लिप हो गया | परंतु गेटमेन ने ऐसा किया क्यों..?

दरअसल किशोर जी जो कि खुद एक बंगाली थे उन्होंने एक बंगाली के साथ एक स्टेज शो किया था जिसमें कुछ पैसों की वजह से उन दोनों के बीच मनमुटाव हो गया था | ऐसे में किशोर जी ने अपने गेटमेन को ये सख्त निर्देश दिये थे कि कोई बंगाली यदि मुझे खोजता हुआ यहाँ आये तो उन्हें घर में आने मत देना | मालिक की बातों की तामील करते उस गेटमेन ने शायद ऋषि दा को पहचानने में भूल करदी एवं उन्हें स्टेज शो वाला बंगाली समझ गेट से बाहर कर दिया | इस अपमान से ऋषि दा इतना आहत हुए कि उन्होंने किशोर कुमार की जगह राजेश जी को इस फिल्म के लिए साइन कर लिया एवं आगे जो हुआ इस बात को कौन नहीं जानता | खैर ये बॉलीवुड है एवं यहाँ ऐसी बाते होते रहती हैं..

बॉलीवुड से जुड़े ऐसे ही ढेर सारे मजेदार बॉलीवुड गॉसिप के लिए हमारे एंटरटेनमेंट पेज पर बने रहे.

न्यूज़ सोर्स: quora

फोटो साभार: dailymotion