मोदी ने किया बड़ा ऐलान 500 और 1000 के नोट अब होंगे बंद

नई दिल्लीः आपको याद होगा साल 2014 में आई मोदी लहर एवं उससे मची आंधी ने किस तरह विपक्ष के परखच्चे उड़ा दिए थे| हर तरफ लोगो में एक विश्वास जाग गया था कि मोदी देश के लिए जरुर कुछ करेंगे|अपने चुनावी वादों में काले धन पर जोड़ देने वाले नरेन्द्र दामोदर दास मोदी ने विगत वर्षो में देश के आर्थिक सुधार के लिए काफी कुछ किया, मगर काले धन के ऊपर उनकी सरकार पर हमेशा ही आरोप लगते रहे| ऐसे में आज देश को संबोधित करते वक़्त उन्होंने कुछ ऐसा फैसला सुनाया की देश के जनता के बीच काले धन को लेकर एक बार फिर से उम्मीदे जाग गयी|

जी हाँ, आज पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए अचानक एक धमाकेदार ऐलान करके सबको चौंका दिया| एक बेहद ही चौका देने वाले बयान में श्री मोदी ने कहा कि आज आधी रात (08-11-2016) के मध्य रात्रि से 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को बंद कर दिया जाएगा| और तो और  30 दिसंबर 2016 तक आपके पास जो भी 500 और 1000 रुपये के नोट है उन्हें या तो  बैंक अथवा डाकघर में जमा करना पड़ेगा नहीं तो अवधी के बाद वे मात्र कागज के टुकड़े बन कर ही रह जायेंगे|

इसे भी पढ़े: शर्मनाक: हम भारतीय आखिर कब सुधरेंगे

इस बड़ी खबर के वजह से ये अनुमान लगाया जा रहा है कि 9 नवंबर को देश भर के सारे ATM बंद रखे जा सकते हैं| ऐसे  में यदि आपको कैश की जरूरत है तो पहले से ही 100 रुपये के नोटों का बंदोबस्त कर लें| बताते चले की सरकार कुछ ही दिनों में मार्किट में 500 एवं 1000 रूपए के नए नोट लांच करने वाली है|

500-rs-note
New 500 and 2000 rs note

पीएम मोदी ने अचानक इस फेरबदल के गंभीरता को समझते हुए आम लोगो को काफी रियायते भी दी है जिसके तहत  11 नवंबर 2016 की मध्यरात्रि तक लोग अस्पताल, रेलवे, बस , पेट्रोल पंप और हवाई टिकट काउंटर पर  500 और 1000 रुपये के पुराने नोट व्यवहार कर सकते है| हालाँकि इसमें डरने वाली कोई बात नहीं है, 500 एवं 1000 रूपए के पुराने नोटों को आप चाहे तो अपने नजदीकी बैंक अथवा डाकघर में जाकर बदली करवा सकते है| इसके लिए आपको अपने साथ एक Valid ID Proof लेकर जाना होगा| हालाँकि अभी तत्काल काम चलाने के लिए आप चाहे तो 4000 रूपए तक की सीमा तक नोट बदल सकते है| 10 नबंबर के बाद इस सीमा में बढोतरी की जा सकती है|

इससे क्या होगा

बताते चले कि जानकार इसे कालाधन एवं करप्शन से लड़ने के लिए मोदी सरकार का एक Masterstroke For Corruption बता रहे हैं| अब चूँकि 1000 एवं 500 के नोट मान्य नहीं रहेंगे तो जो भी अपने घरों में या अमान्य तरीके से पैसे छिपा कर रखे होंगे उन्हें किसी भी तरह अब इन पैसो को बाहर निकलना ही परेगा| और तो और रिश्वत से कमाई गए पैसो का भी ब्यौरा देना संभव नहीं हो पायेगा  जिसके वजह से या तो घर में परे-परे नोट बर्बाद हो जायेंगे या बाहर निकलने पर सरकार को सम्पति की पूरी जानकारी देनी परेगी वही इसके साथ ही आतंकवाद एवं अन्य गैर कानूनी गतिविधियों में की जाने वाली बड़े फर्जी नोट के इस्तेमाल पर भी काबू पाया जा सकेगा|  इसे कहते है एक तीर से दो निशाना| आशा करते है कि मोदी सरकार का ये मास्टरप्लान आगे जाकर भारतीय अर्थव्यवस्था को एक नया बल प्रदान करेगी|

फोटो साभार: गूगल इमेज