‘तू जुनूनियत’ फ़िल्म ‘जुनूनियत’ से लिरिक्स एंड गाने

‘तू जुनूनियत’ फ़िल्म ‘जुनूनियत’ से लिरिक्स एंड गाने : तू जुनूनियत रात श्री सिंघल , आकृति ककर  द्वारा गाए इस गाने को कंपोज़ किया है जीत गांगुली ने जबकि सगीत लिखा है मनोज मुन्तशिर  ने |

गायक :  श्री सिंघल , आकृति ककर 
संगीत:   जीत गांगुली
बोल:   मनोज मुन्तशिर 
रिलीज़ कम्पनी : टी सीरीज


मेरे दिल के ये टुकड़े हैं
निगाहों से चुनु यारा
मोहब्बत की कहानी है
मोहब्बत से सुनो यारा

मैं आया हूँ तेरे दर पे
तोह अब जाना नहीं होगा
जियूँगा या मरूँगा मैं
जो होना है यहीं होगा

कहता हूँ मैं
सुन ले ये मेरा खुदा

तेरा इश्क है मेरी सल्तनत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत
मैं हूँ दिल जला, मुझे तेरी लत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत, वो…..

किताबों में पढ़ा था ये
खुदा को प्यार है प्यारा
किया जो प्यार है प्यारा
हुआ दुश्मन जहाँ सारा

ठुकरा दिया मैंने ये जहाँ
ले आज तुझको चुना

तेरा इश्क है मेरी सल्तनत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत
मैं हूँ दिल जला, मुझे तेरी लत
तू जिद्द मेरी, तू ज्ञूण्णीऊआट, वो…..

मैं हूँ दिल जला, मुझे तेरी लत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत, वो…

बड़ी खुश रंग थी वोह शामें
बड़ा रोशन सवेरा था
वोह क्या खोया जिसे चाह
वोह क्यूँ बिचड़ा जो मेरा था
जिन आँखों में मैं रहता था

उन आँखों में में है पानी क्यूँ
नहीं बदला कही कुछ भी
मैं तेरा था, मैं तेरा हूँ
उद्द के ज़रा तू देख ले

इतनी सी है मेरी सल्तनत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत
मैं हूँ दिल जला, मुझे तेरी लत
तू जिद्द मेरी, तू जुनूनियत, वो…

Summary
Review Date
Reviewed Item
‘तू जुनूनियत’ फ़िल्म ‘जुनूनियत’ से लिरिक्स एंड गाने
Author Rating
41star1star1star1stargray

Leave a Reply