‘तू ही न जाने ‘ फ़िल्म ‘अजहर’ से लिरिक्स एंड गाने

‘तू ही न जाने ‘ फ़िल्म ‘अजहर’ से लिरिक्स एंड गाने: तू ही न जाने  सोनू निगम, प्रकृति ककर   द्वारा गाए इस गाने को कंपोज़ किया है  अमाल मल्लिक  ने जबकि सगीत लिखा है कुमार ने |

गायक : सोनू निगम, प्रकृति ककर
संगीत: अमाल मल्लिक
बोल:   कुमार
रिलीज़ कम्पनी : टी सीरीज

 

समंदर से ज्यादा मेरी आँखों मे आंसू
जाने ये खुदा भी है ऐसा क्यूँ (2)

तुझको ही आये न ख्याल मेरा
पत्ता पत्ता जानता है
इक तू ही न जाने हाल मेरा
पत्ता पत्ता जानता है
इक तू ही न जाने हाल मेरा

नित दिन नित दिन रोइयाँ मैं
सोंह रब्ब डी न सोइयाँ मैं
इक तेरे पीछे माहि
सावन दियां रुत्तन ख़ियाँ मैं (2)

दिल ने धधानो को ही तोड़ दिया
टूटा हुआ सीने में छोड़ दिया

खुशियाँ ले गया
दर्द कितने दे गया
ये प्यार तेरा
पत्ता पत्ता जानता है
इक तू ही न जाने हाल मेरे (2)

मेरे हिस्से आई तेरी पर्छैयाँ
लिखी थी लकीरों में तन्हैयाँ
हाँ… मेरे हिस्से आई तेरी पर्छैयाँ
लिखी थी लकीरों में तन्हैयाँ

हाँ करूँ तुझे याद मैं
है तेरे बाद इंतज़ार तेरा
पत्ता पता जानता है
इक तू ही न जाने हाल मेरा (2)
हाल मेरा…

Summary
Review Date
Reviewed Item
'तू ही न जाने ' फ़िल्म ‘अजहर’ से लिरिक्स एंड गाने
Author Rating
41star1star1star1stargray