बोर्ड एग्जाम में अधिक मार्क्स पाने हेतु कुछ आवश्यक टिप्स

हर साल फ़रवरी-मार्च का महीना आते-आते हमारी युवां आबादी काफी चिंतित एवं परेशान हो जाती हैं| ये वो दौर होता हैं जब हमारे काबिलियत एवं मेहनत को परखने वाली बोर्ड एग्जाम की शुरुवात हो जाती हैं| अक्सर ये देखा जाता है की लास्ट मिनट प्रिपरेशन रस एवं अधुरी तैयारी के वजह से हम डिप्रेशन के चपेट में आ जाते हैं जिसके वजह से हमारी एक बड़ी आबादी एग्जाम में कुछ खास नहीं कर पाते|एग्जाम के इस मौसम में जहा बच्चे अपने नोट्स को रीवाइज एवं अपने मेहनत को एक आखरी रूप देने में लगे हैं, उस वक़्त आपके परेशानियों को कम करने हेतु हमारे एक्सपर्ट स्कोलोरो ने एग्जाम के वक़्त बच्चो के मार्गदर्शन हेतु कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट बनाये हैं जो आपको एग्जाम में काफी अच्छा करने में मदद कर सकती है|

1.जो भी लिखे उसे साफ एवं सुन्दर लिखावट में लिखे| ध्यान दे की आपके उत्तर पुस्तिका को चेक करने वाले निरीक्षक पर सबसे पहला इम्प्रैशन आपके अच्छे हैण्ड राइटिंग का ही होता हैं| यदि वो आपके हैण्ड राइटिंग को पढ़ ही नहीं पाएंगे तो फिर मार्क्स कहा से दे पाएंगे|

2. स्पेल्लिंग एवं पंक्चुएशन पर विशेष ध्यान दे| कई बार आंसर सही होने के बावजूद भी हमे पुरे मार्क्स नहीं मिल पाते, ध्यान दे आपके स्पेल्लिंग्स एवं पंक्चुएशन आपको काफी मार्क्स दिला सकते हैं|

3. आंसर देने से पूर्व प्रश्न-पत्र में दिए गए निर्देश को ध्यान पुर्वक पढ़े| कई बार आंसर देने के हर-बड़ी में हम प्रश्न पत्रिका में छपी निर्देशों को नहीं पढ़ पाते. ये आदत आपको काफी महंगी पड़ सकती हैं|

4. एग्जाम सेण्टर में समय से पहले पहुचने की आदत डाले. कई बार देखा गया हैं की बच्चे एग्जाम सेण्टर के बहार भी लास्ट मिनट प्रिपरेशन में बिजी हो जाते हैं. कोशिश करे जितना हो सके इन आदतों से बचे|

5. परीक्षा हॉल में जाने से पहले अपने सारे महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे की एडमिट कार्ड, आइडेंटिटी प्रूफ इत्यादि ले जाना न भूले| पेन, पेंसिल एवं अन्य महत्वपूर्ण औज़ारो को चेक कर ले ताकि हॉल में आपको किसी से मांगने की जरुरत न पड़े|

6. कई बार देखा गया हैं की बच्चे एग्जाम हॉल में क्वेश्चन को देखकर तनाव ग्रस्त हो जाते हैं. कोशिश करे पहले उन प्रश्नों का आंसर देने की जिन्हें आपने अच्छे से पढ़ा हो. कुछ क्वेस्चन ऐसे भी हो सकते है जो आपको नही आता हो, ध्यान दे उन प्रश्नों का उत्तर आप लास्ट टाइम क लिए बचा कर रखे|

7. आंसर लिखते वक़्त यूनिट्स एंड मेंसरमेंट्स को लिखना न भुला. कई बार देखा गया हैं की उत्तर देने के उत्सुकता में बच्चे यूनिट्स लिखने जैसे मत्वपूर्ण कार्यो को नजर अंदाज़ कर देते हैं|

8. माता पिता अगर बच्चो का सही सही मार्गदर्शन एवं मोटिवेशन करेंगे तो हर बच्चा अच्छा करेगा. कोशिश करे अपने बच्चो को अनावश्यक बोझ न देने की|

इसे भी पढ़ें : Nitish Government to launch student credit card from April First

एवं अंत में हमेशा ये ध्यान दे की कोई भी एग्जाम आपके काबिलियत को नहीं आंक सकती. एग्जाम को एक मौके के रूप में ले. जितना हो सके पॉजिटिव रहे. कहानियां पढ़े, म्यूजिक सुने एवं अपने पढाई में बीच-बीच में कुछ समय का ब्रेक लेते रहे. यकीन मानिये सफलता आपके कदम चुमेगी बस थोडा धैर्य रखे|

ट्रेंडिंग ऑवर के समस्त परिवार के तरफ से हम समस्त विधार्थियों को उनके सफल सुखद एवं मंगल भविष्य की कामना करते हैं साथ ही हम माता पिता एवं गार्जियन से ये भी अनुरोध करते हैं की अपने बच्चे को अनावश्यक रूप से टेंशन न दे. ध्यान दे आपके सोच एवं सपनो ओ पुरा करते करते कही वे अपने आप ओ न भूल जाये|

हिंदी खबर से जुड़े अन्य अपडेट लगातार पानेे के लिए हमें फेसबुक ,गूगल प्लस और  ट्विटर पर फॉलो करे|

image courtesy : The Hindu

Tredinghour

THNN (Trendinghour News Network).

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Have Entered Wrong Credentials