जाने दिन के विभिन्न अवधि से जुड़े Vastu Tips

Vastu Tips According to Different Time of a Day in Hindi : बड़े बुजुर्ग कह गए हैं कि जब जागो तभी सवेरा | ऐसे में हर दिन एक नयी शुरुवात होती है | भारत जैसे देश में जहाँ शास्त्रों एवं वैदिक ज्ञान को काफी ज्यादा तवज्जो दिया जाता है  वहाँ हर कार्य करने से पहले एक शुभ महूरत जरुर निकाला जाता है |

चाहे बात हो शादी की या फिर कोई नया कारोबार ही क्यों न स्थापित करना हो आज हम हर शुभ कार्य से पहले एक बार ये जरुर सोचते हैं क्या ये अवधि इस कार्य के लिए उपयुक्त है | ऐसे में हमारे वास्तु एक्सपर्ट ने दिन के विभिन्न पहरों का विश्लेषण कर आपको सरल शब्दों में यह बताने की कोशिश की है कि कौन सा समय किस काम के लिए शुभ होती है | पेश है एक रिपोर्ट…

Vastu Tips According to Different Time of a Day in Hindi :

(1) सूरज निकलने से पहले रात्रि 3 बजे से 6 बजे को ब्रह्म मुहूरत कहा जाता है | ऐसा समय चिंतन अध्यन के लिए काफी अनुकूल समझा जाता है |

(2) सुबह 6 बजे से 9 बजे तक सूरज अपने पूर्ण रूप से खिलने वाला होता है | ऐसे में सूरज की किरणों के साथ शारीरिक चुस्ती फुर्ती एवं व्यायाम के महत्व पर जोड़ देने की कोशिश करें | सूरज की रौशनी मिलती रहे इसके लिए घर का मुख्य द्वार पूर्व दिशा की ओर बनायें |

(3) प्रातः कल सुबह 9 से 12 बजे के बीच सूर्य घर के दक्षिण-पूर्व में होता है | ऐसे में ये वक़्त खाना बनाने एवं अन्य घरेलु कार्य जैसे की घर साफ करने एवं झाड़ू-पोछा के लिए उपयुक्त होता हैं ध्यान दें बाथरूम एवं किचन घर में इस प्रहर की धुप पहुँच पाए |

(4) 12 से 3 बजे का समय भोजन एवं विश्राम के लिए उपयुक्त समझा जाता है | ऐसे में अपना बेडरूम भी सूर्य के दिशा अतार्थ दक्षिण दिशा में बनायें |

इसे भी पढ़े:  इन 5 टीवी सीरियल को कभी मिस मत करना 

(5) दोपहर 3 से संध्या 6 बजे तक का समय घर के कार्य करने एवं पढ़ने का होता है | इस समय सूरज दक्षिण पश्चिम में होता है तो कोशिश करें कि स्टडी रूम इसी तरफ हो |

(6) शाम के 6 से 9 बजे तक का वक़्त पढ़ने, खाना बनाने एवं भोजन करने का होता है | ऐसे में घर का पश्चिमी कोना भोजन बनाने अथवा बैठक रूम के लिए उत्तम होता है |

(7) सायं 9 बजे से मध्य रात्रि के बीच सूरज उत्तर पश्चिम में होता है ऐसे में ये स्थान शयन कक्ष के लिए उत्तम होता है |

(8) मध्य रात्रि से प्रातः 3 बजे सूरज उत्तर दिशा में होता है | ये प्रहर काफी शांत एवं गोपनीय होता है इसलिए इस दिशा में आप अपने कीमती सामानों को स्टोर कर सकते हैं |

Vastu Tips According to Different Time of a Day in Hindi  वास्तुशास्त्र एवं एस्ट्रोलॉजी से जुड़े ऐसे ही ढेर सारे मजेदार जानकारियों के लिए हमारे एस्ट्रोलॉजी पेज से जुड़ना न भूले.